राजनीति

अब नेता जी वोट मांगने के लिये

जनता के पास नही जायेंगे

फिर भी इलैक्शन जीत जायेंगे

यह सौ प्रतिशत सच का दावा है

अभी-अभी एक तांत्रिक ने

सौ मुर्गें और पच्चीस बकरे मांगा है

साथ मे मादिरा भी जायेंगी

जैसे जैसे मुर्गे और बकरों की बलि देगा

नेता जी के पक्ष मे वोटो पर असर पडेंगा

जब पूर्ण आहुति का होगा भोग

सबल हो जायेगा जीत का योग

तांत्रिक के जाप और बलि क प्रभाव

पहले भी कई नेता/अभिनेता

देख चुके है जनाब

तांत्रिक का भयंकर प्रभाव और कर्मकांड है

अब तो विदेशो तक मे भरी मांग है

तभी किसी ने व्यंग से बीच मे टोका

जीत के लिये मूक पशुओं का बलिदान

याद रखेगा २१वीं सदी का हिन्दुस्तान

विज्ञान के सीने पर फिर तांत्रिक ने गोला दागा था

यह तांत्रिक तो वही है जो

कत्ल और डकैती के इल्जाम में

पच्चीस साल पहले जेल से भागा था

आज नेता जी उसके चरण छू रहे है

ढोंगी, आधुनिक युग में जनता तो जनता

नेता तक को दूह रहे हैं

न्याय ओर कानून का रास्ता भी

आम आदमी के घर की चौखट तक जाता है

वी०आई०पी० नेता अभिनेता

आसानी से हाथ नही आता है

यह देश सिद्यांतो के सहारे नही

अदृश्य शक्ति के सहारे चल रहा है

क्योकिं हर नेता अपने आप को सुरक्षित और

कनून से ऊपर समझ रहा है

यदि फंसा तो जेल नही

अस्पताल जाता है

चीख चीख कर खुद को

बेकसूर बताता है

लोकतंत्र की हड्डियों, खाल और मांस

खुले आम बेच रहे है

हम सब भय से कांपते हूए

रोज चुप चाप देख रहे है

One Response

  1. Har Pershad Pushpak 18/08/2013

Leave a Reply