खुश्बू भी बन कर बिखरूंगा….

ज़रा चराग़ तो जल जाने दे ,
ज़रा शाम तो ढल जाने दे ,

खुश्बू भी बन कर बिखरूंगा ,
ज़रा खाक़ में तो मिल जाने दे !!

Leave a Reply