भूत और ये भूतईया खेल / सुचेता

कुछ लोग भूत बनाते हैं
कुछ लोग इन्सानों में भूत बताते हैं
तो कुछ लोग इन लोग के सहारे ऐसे बन जाते हैं ,
जो भूत भगाते हैं ।
इसलिये कुछ निट्ठ्ले और असामाजिक तत्व
भोमिओ,बाबा,माता जी,देवता बन जाते हैं ।
और जो कुछ लोग दीमागी बीमारी से परेशान हैं ,
वो इनके हत्थकन्डे चढ़ जाते हैं !
ये बीमार लोग समाज की भूतिया बीमारी के चलते
दीमाग के साथ-साथ पिट-पिट कर दिल से भी बीमार हो जाते हैं
और अन्त में टूट कर,थक कर, हार कर
मर जाते हैं !
शेष रह जाते हैं वो कुछ लोग जो
भूत बनाते हैं और वो कुछ लोग जो भूत भगाते हैं ।
मेरा सब्र तब टूट जाता है जब,
इन भूतिया खेलों में मेरे देश के इन्जिनीयर,डोक्टर,वैग्यानिक,
कवी,साहित्याकर,कलाकार और युवा शामिल हो जाते हैं !
उफ़————-ये भूत और ये भूतईया खेल !

 

Leave a Reply