नाम की महिमा

नाम की महिमा

भजो प्रभु का नाम
बिगढ़े, बने तेरे काम
देख हाल प्रभु चकराये
नाम की महिमा से शरमाये
किस तरह लें प्रभु का नाम
हम ने किया इसका काम तमाम !
जरा गौर फरमाइये
कलियुग का सच जानिये
(१)
नेताजी और काम
है राम, है राम
(२)
दुकानदार और नाप-तोल
हरि बोल, हरि हरि बोल
(३)
अफसर और ईमानदारी
हरे मुरारी ,हरे मुरारी
(४)
सरकारी हस्पताल और उपचार
है पालन-हार, है पालन-हार
(५)
दूरदर्शन और सरकारी तथ्य
राम नाम सत्य, राम नाम सत्य
(६)
कानून और अधिवक्ता
जय हनुमन्ता,जय हनुमन्ता
(७)
आधुनिकता और सभ्यता
है मुक्तिदाता, है मुक्तिदाता

सजन कुमार मुरारका

Leave a Reply