एक बार देखो

इन प्यारी प्यारी नजरो से एक बार देखो
दिल  कह   रहा है   मेरे   यार  देखो

देखो जवाँ फिजाये कुछ गुनगुना रही है
आओं   साथ  मेरे  ये  बहार  देखो

बहती हुई हवाए खुशबु लुटा रही है
दिल पे नहीं है इख्तियर देखो

तेरी हसीं अदाए मुझको सता रही है
दिल पे कैसा छाया ये खुमार देखो

मेरी सुनी सदायें तुझको बुला रही है
दिल पे हाथ रख कर दिलदार देखो
लोकेश उपाध्याय

Leave a Reply