बात इतनी सी थी

बात  इतनी  सी   थी, फ़साना  बना  दिया,

तोडकर  मेरे  दिल  को, अफसाना  बना  दिया..

टूटे  दिल  के  टुकडो  को, देखकर  जी  रहे  है  हम,

जख्म  पहले  ही  क्या  कम  था  जो  नासूर  बना  दिया.

 

बात  इतनी  सी   थी, फ़साना  बना  दिया,

तोडकर  मेरे  दिल  को, अफसाना  बना  दिया..

 

 

दिल  की  कीमत  ही नहीं  कोई,

प्यार  का  एहसास  ही नहीं  कोई, 

भूले  वो  दिन,  प्यार  का  जिसे  नाम  दिया ,

दूर  जाने  का  न  कोई  शिकवा  ना  कोई  गिला, 

बात  इतनी  सी   थी, फ़साना  बना  दिया,

तोडकर  मेरे  दिल  को, अफसाना  बना  दिया.. 

भुलाये  वो  साथ  बीते  पल,

बाँहों  में  बीता  हुआ  सुहाना  कल,

आलम  है  की  हम  कोई  है  ही  नहीं ,

बनके  अजनबी  मेरे  दिल  को  ऐसा   जला  दिया ..

बात  इतनी  सी   थी, फ़साना  बना  दिया,

तोडकर  मेरे  दिल  को, अफसाना  बना  दिया..

43 Comments

  1. Iam Sweetu 14/08/2012
  2. Ishq Love 14/08/2012
    • RaviBhattacharya 17/08/2012
  3. Seema Bala 14/08/2012
  4. Sheetal Sharma 15/08/2012
  5. yashoda agrawal 16/08/2012
  6. Anita Bhattacharya 16/08/2012
  7. Anil Gupta 16/08/2012
  8. Dipshikha Rathor 16/08/2012
  9. Dipshikha Chauhan 16/08/2012
  10. Prachi Sharma 17/08/2012
  11. Pankaj Dhameeja 17/08/2012
  12. Yashwant Mathur 18/08/2012
    • Ravi Bhattacharya 27/08/2012
  13. Alpana 19/08/2012
  14. Seema Bala 16/09/2012
  15. Rekha Sharma 17/09/2012
  16. Anurag Roy 17/09/2012
  17. Puja Naiyyar 18/09/2012
  18. Puja Naiyyar 18/09/2012
  19. Dipshikha Rathor 27/09/2012
  20. Apurva Bhatt 10/10/2012

Leave a Reply