जाड़ों में

लोग बहुत पास आ गए हैं।

पेड़ दूर हटते हुए
कुहासे में खो गए हैं
और पंछी (जो ऋत्विक हैं)
चुप लगा गए हैं।

Leave a Reply