बात दिल की, जुबां तक नहीं पहुंचती

बात दिल की, जुबां तक नहीं पहुंचती
सभी दुआएं खुदा तक नहीं पहुंचतीं

दीवारें इतनी खड़ी हैं इर्द-गिर्द
कि सदाएं वहां तक नहीं पहुंचती

हम बीमार हुए कुछ इस कदर कि
हलक के नीचे दवा तक नहीं पहुंचती

हैं कुछ लोग, रोशन किये नाम वर्ना
मोहब्बत सबकी, वफ़ा तक नहीं पहुंचती

Leave a Reply