देश है संकट में ज़रा ध्यान दीजिये

देश है संकट में ज़रा ध्यान दीजिये
नन्हें-मुन्ने बच्चों को ज्ञान दीजिये

आज़ादी का मर्म पहले बताइये
फिर उनको सारा आसमान दीजिये

हो गये वतन पे जो अनगिनत शहीद
उन्हीं का दिलों में तूफान दीजिये

जोश दीजिये सही आँखों में उनकी
हो सके तो देश की पहचान दीजिये

कोई हसीन ख्वाब बुन-बुन के आप
एक नया उन्हें उनवान दीजिये

Leave a Reply