जो किसी का दर्द अपना लिया करते हैं

जो किसी का दर्द अपना लिया करते हैं
अपनी ख़ुशी को दफना दिया करते हैं

वे सुनते हैं अक्सर हमारी प्रार्थना
हमीं उनको भुला दिया करते हैं

धीरे-धीरे फैलती है उनकी तासीर
जगह दिल में बना लिया करते हैं

ऐसा क्यों करते हैं, ये खुदा जाने
पूछने पर मुस्कुरा दिया करते हैं

अज़ीब बात है, ऐसे शख्स को हम
काँटों का ताज पहना दिया करते हैं

Leave a Reply