नारी शक्ति

रोशनी की कीमत पहचान ली

परवाह नही अब किसी रिश्ते की

आदत नही शिकायत की

उम्मीद है सफलता की

नन्हा सपना दुआओं के असर से

तन्हा जीवन मे खुशियाँ भर देगा

चाहत है इतनी, अब डर नही है

जवाब है, मार्ग है, विकल्प है

नारी की आजादी अब

आवरण नही श्रद्धा का

क्षमता पहचान ली है अपनी

अटल है इरादा, कहानी नही

हकिकत है, जमाना है नारी शक्ति का

One Response

  1. Prit raithatha 08/03/2015

Leave a Reply