नमन है वतन पे मिटने वालो

नमन है वतन पे मिटने वालो…….
१. समंदर कि लहरों पे चलने वालों
हिमालय पे बेठे देश के रखवालो
नमन है वतन पे मिटने वालो ……….

२. होती है भारत माता धन्य
जिस पल आँचल तुमको पाता है
इतिहास गवाह बन जाता है
जब कोई सैनिक
बचाते आँचल शहीद हो जाता है
नमन है वतन पे मिटने वालो ………..

३. प्रणाम है शत् शत् उन माता को
लहू से जिनके
खुद को सुरक्षित पता हूँ
नमन है वतन पे मिटने वालो ………..

४. काला बादल छायेगा
जब उंगली कोई तुम पे उठाएगा
बेला जब ऐसी आएगी
पराधीनता फिर से सिर उठाएगी |
निवेदन है वतन पे मिटने वालो
न दिन ऐसा आये
कि तुम झुको और हम सिर उठाएँ ||
शीश झुकाऊं शत् शत्
वतन पे मिटने वालो
नमन है वतन पे मिटने वालो ……………

Leave a Reply