स्कूटर चलाती हुई लड़कियाँ

स्कूटर चलाती हुई लड़कियाँ

जब फर्राटे भरती हुई

गुजरतीं हैं पास से तो

लगता है जैसे

एक झोंका गुजर गया हो

मोंगरे की सुगन्ध से गमकता

 

स्कूटर चलाने वाली लड़कियाँ

पसन्द नहीं करतीं है किसी से पिछड़ना

वे सबको पीछे छोड़ती हुई

बहुत आगे निकल जाना चाहतीं हैं

इतना आगे कि पीछे मुड़कर देखने पर

सिर्फ उनकी गति दिखाई दे

 

सबको पीछे छोड़ने वाली इन लड़कियों को

महिला विमर्श के बारे में

पता है कि नहीं, पता नहीं

लेकिन वे जानती हैं कि

किस मोड़ से

कितनी गति से मुड़ना चाहिए

कब इतना चरमराकर

ब्रेक लगाना चाहिए कि

स्कूटर के साथसाथ

समय भी ठहर जाए

समय को लगाम की तरह पकड़ी हुई

इन लड़कियों को देखना

मेरे समय का सबसे सुन्दर दृश्य है

Leave a Reply