आधे चंद्रमा के रूप ढाके केश घटा कैंधौँ

आधे चंद्रमा के रूप ढाके केश घटा कैंधौँ ,
गगना के नाके विधु आठवीँ कला के हैँ ।
कैँधौँ काम देवता के कनक बटा के रूप ,
औँधा के धरे हैँ हेतु ससि को सुधा के हैँ ।
कैँधौँ एक छत्र ताके छत्र छविता के छीने ,
नासिका के दँड बाँके गुन बिधिना के हैँ ।
कैँधौँ नाथ भाग्य ताके भाजन भरे धरे हैँ ।

Leave a Reply