सुख-सुहाग की दिव्य-ज्योति से

सुख सुहाग की दीव्य-ज्योति से,

घर-आंगन मुस्काये,

ज्योति चरण धर कर दीवाली,

घर-आंगन नित आये

Leave a Reply