एक वाक्य

चेक बुक हो पीली या लाल,

दाम सिक्के हों या शोहरत –

कह दो उनसे

जो ख़रीदने आये हों तुम्हें

हर भूखा आदमी बिकाऊ नहीं होगा है !

Leave a Reply