प्रेम-4

कहते हैं
आज भी जीवित है
बोधिवृक्ष

खड़ा है वैसे ही
सदियों के बाद भी

हम-तुम
रहेंगे-न रहेंगे
हमारा प्रेम रहेगा

बोधिवृक्ष की तरह।

Leave a Reply