अभी टूटा नहीं है ख्व़ाब मेरा-Bhawana kumari

तुमने बहुत कोशिश की थी मेरे ख्व़ाबो को तोड़ने की,
पर जान लो मैंने टूटने नहीं दिये है अभी तक ख्व़ाब अपना
जिंदा है वो अब भी मेरे आँखों में हसीन सपनों की तरह,
दिल में बसा है ठीक तुम्हारे ही तरह,
और शायद जिंदा रहेगी उम्र भर मेरे अंदर तुम्हारे ही तरह ।

भावना कुमारी

6 Comments

  1. C.M. Sharma C.M. Sharma 18/03/2019
    • Bhawana Kumari Bhawana Kumari 19/03/2019
  2. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 18/03/2019
    • Bhawana Kumari Bhawana Kumari 19/03/2019
  3. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar Prasad sharma 18/03/2019
    • Bhawana Kumari Bhawana Kumari 19/03/2019

Leave a Reply