IBN…

हमारा ज़िक्र और चलेगा तेरी महफ़िल में अभीं,
ज़िन्दगी को थोडा और बे-नक़ाब तो होने दो…

3 Comments

  1. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 09/01/2019
  2. Abhishek Rajhans 10/01/2019
  3. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 11/01/2019

Leave a Reply