रोशनी ।

तेरे हुस्न के शोले, इतने भड़क गए हैं जानम की,
सारे शहर में रात भर, रोशनी रहती है कमाल की..!

मार्कण्ड दवे । दिनांकः ०४-०१-२०१९.

2 Comments

  1. C.M. Sharma C.M. Sharma 04/01/2019
    • Markand Dave Markand Dave 05/01/2019

Leave a Reply