दौरा ।

मुहब्बत के इस हसीन दौर का, दौरा पड़ा है मुझ को…!
बस तेरी इक मुस्कुराहट पर, दिल बाग-बाग हो जाता है…!

मार्कण्ड दवे । दिनांकः -११-१०-२०१८.

2 Comments

  1. C.M. Sharma C.M. Sharma 24/12/2018
    • Markand Dave Markand Dave 25/12/2018

Leave a Reply