शब्द…वर्ण पिरामिड एवं डमरू…सी.एम्.शर्मा…

विधा :: वर्ण पिरामिड
१.
हैं
शब्द
आहट
गर्माहट
इश्क़ तराना
प्यार नज़राना
घर घर फ़साना

२.
है
नाद
निशब्द
जय घोष
आत्मीय बोध
अहम ब्रह्मास्मि
सचराचर  स्वामी

विधा : डमरू

घर घर फ़साना
प्यार नज़राना
इश्क़ तराना
गर्माहट
आहट
शब्द
है
नाद
निशब्द
जय घोष
आत्मीय बोध
अहम ब्रह्मास्मि
सचराचर  स्वामी

II स्वरचित – सी.एम्.शर्मा II

8 Comments

  1. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar prasad sharma 04/12/2018
    • C.M. Sharma C.M. Sharma 05/12/2018
  2. SALIM RAZA REWA SALIM RAZA REWA 04/12/2018
    • C.M. Sharma C.M. Sharma 05/12/2018
  3. Bhawana Kumari Bhawana Kumari 04/12/2018
    • C.M. Sharma C.M. Sharma 05/12/2018
  4. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 05/12/2018
    • C.M. Sharma C.M. Sharma 07/12/2018

Leave a Reply