माँ दुर्गा आओ मेरे द्वार – डी के निवातिया

माँ दुर्गा आओ मेरे द्वार
*** *** ****
!
भक्त की अरदास ये बारम्बार !
आ-माँ-आ, तू, आ मेरे  द्वार !!

तुम असुर विनाशिनी
तुम कर्मफलदायिनी
तुम नवरूप स्वारिणी
आकर हमरा कर दो बेड़ा पार   !
आ-माँ-आ, तू, आ मेरे  द्वार !!
!
शेर की सवारी  शस्त्र हाथ लेके
भुजाओं में शक्ति अपार लेके
सुख समृद्धि अपने साथ लेके
तुम भक्तो की सुन के पुकार  !
आ-माँ-आ, तू, आ मेरे  द्वार !!
!
हे जगजननी, हे रणचण्डी,
शक्तिशाली, कष्टहारिणी
जग विहारिणि, स्नेहदायिनी
माँ दुर्गा तुम दर्शन दो एक बार
मै तेरी आरती उतारूँ बारम्बार !
आ-माँ-आ, तू, आ मेरे  द्वार !!
!
भक्त की अरदास ये बारम्बार !
आ-माँ-आ, तू, आ मेरे  द्वार !!

!
!
!
स्वरचित : डी के निवातिया

5 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 10/10/2018
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 11/10/2018
  2. C.M. Sharma C.M. Sharma 11/10/2018
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 11/10/2018
  3. Bhawana Kumari Bhawana Kumari 12/10/2018

Leave a Reply