प्यारी बहनें

जो भी माँगो कभी रब से , सभी साकार हो जाये
दुनिया की सभी खुशियों को , तुमसे प्यार हो जाये
मेरे मालिक मेरे भगवन , इतनी सी मुराद है
मेरी बहनों का स्वर्ग सा , घर संसार हो जाये

 

कवि – मनुराज वार्ष्णेय

4 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 26/08/2018
  2. C.M. Sharma C.M. Sharma 27/08/2018

Leave a Reply