भोला बम बम भोला…सी.एम्.शर्मा (बब्बू)….

II छंद – चौपाई II

कहते हैं शमशान निवासी, रोम रोम रम रहा सुवासी…
आदि अंत का जो है ज्ञाता, महादेव वो है कहलाता..

पी कर ज़हर अमृत देता वो, ऐसा वैरागी मन से वो…
जीवन मौत समाये रहते, मृत्युंजय हो जग में रमते….

आदि अंत में भी रहता जो, सत असत परिभाषित करे जो…
जड़ चेतन में जो अविचल है,सनातन वही शिव शंकर है..

दुख लेके सुख देता है जो, भोला बम बम भोला है जो….
वंदन रूप करे जग उसका, सत्यम शिवम सुंदरम उसका…
\
/सी.एम्.शर्मा (बब्बू)

20 Comments

  1. अखिलेश प्रकाश श्रीवास्तव अखिलेश प्रकाश श्रीवास्तव 08/08/2018
    • C.M. Sharma C.M. Sharma 09/08/2018
  2. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 08/08/2018
    • C.M. Sharma C.M. Sharma 09/08/2018
  3. ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 08/08/2018
    • C.M. Sharma C.M. Sharma 09/08/2018
  4. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 08/08/2018
    • C.M. Sharma C.M. Sharma 09/08/2018
      • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 09/08/2018
        • C.M. Sharma C.M. Sharma 16/08/2018
  5. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar Prasad sharma 09/08/2018
    • C.M. Sharma C.M. Sharma 16/08/2018
  6. Shivani 10/08/2018
    • C.M. Sharma C.M. Sharma 16/08/2018
  7. Rajeev Gupta Rajeev Gupta 11/08/2018
    • C.M. Sharma C.M. Sharma 16/08/2018
  8. Mahavir Uttranchali Mahavir Uttranchali 13/08/2018
    • C.M. Sharma C.M. Sharma 16/08/2018
  9. rakesh kumar rakesh kumar 31/08/2018
    • C.M. Sharma C.M. Sharma 04/09/2018

Leave a Reply