दिन तो हर हाल में होगा – शिशिर मधुकर

रात कितनी भी लम्बी हो दिन तो हर हाल में होगा
भला जिसका भी होना है वो अपने काल में होगा

बुनी जिसने तरक्की रोकने को मेरी ये साज़िश
समय बदलेगा तो खुद ही वो अपने जाल में होगा

चमक कितनी भी अच्छी हो नक़ल फिर भी नहीं बिकती
दाम मिलता है बस उसका जो असली माल में होगा

जिसकी रग रग समेंटे हो वार को सहने की क्षमता
वो ही हमलों को झेलेगा और सदा ढाल में होगा

जिसने सच को नहीं माना और सदा झूठ को पूजा
कोई भी तेज ना मधुकर उसके निज भाल में होगा

शिशिर मधुकर

14 Comments

  1. Abhishek Rajhans 30/07/2018
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 31/07/2018
  2. अंजली यादव Anjali yadav 30/07/2018
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 31/07/2018
  3. ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 30/07/2018
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 31/07/2018
  4. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar Prasad sharma 31/07/2018
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 01/08/2018
  5. C.M. Sharma C.M. Sharma 01/08/2018
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 01/08/2018
  6. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 02/08/2018
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 02/08/2018
  7. Bhawana Kumari Bhawana Kumari 02/08/2018
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 02/08/2018

Leave a Reply