तेरी मेरी कहानी …….

ये जो तेरी मेरी कहानी है
लगने लगी पुरानी है

जाने कहां गुम हैं वो रातें
सिर्फ तेरी निशानी है

क्यों दूरियां आ भी जाओ
रात कैसी नूरानी है

जो बात बीती रही हैं कहां
तू भी मेरी दिवानी है

जो तुम रूठों तो मै मनाऊं
संग तेरे जिंदगानी है
——————–//**–
✒ शशिकांत शांडिले, नागपूर
भ्रमनध्वनी – ९९७५९९५४५०

14 Comments

  1. Madhu tiwari Madhu tiwari 19/07/2018
  2. ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 20/07/2018
  3. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 20/07/2018
  4. kiran kapur gulati kiran kapur gulati 20/07/2018
  5. C.M. Sharma C.M. Sharma 20/07/2018
  6. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar prasad sharma 20/07/2018
  7. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 20/07/2018

Leave a Reply