अनमोल है ज़िन्दगी – अनु महेश्वरी

सब को खुश करने में तो,
मिले न सफलता ही कभी।
सुनो सबकी करो मन की,
खुश रह सकोगें तुम तभी।

मुश्किल घड़ी आए तो,
धीरज फिर धर लेना तुम।
सब को खुश करने में,
अपना चैन न खोना तुम।

अनमोल है यह ज़िन्दगी,
इसे मुस्कुराके तुम जिओ।
खुश रहो हमेशा खुद भी,
औरो को भी तुम हंसाओ|

अनु महेश्वरी

5 Comments

  1. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 19/06/2018
  2. davendra87 davendra87 19/06/2018
  3. kiran kapur gulati kiran kapur gulati 20/06/2018
  4. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar prasad sharma 21/06/2018
  5. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 22/06/2018

Leave a Reply