ऐ भगवान – बिन्देश्वर प्रसाद शर्मा (बिन्दु)

ऐ भगवान रहम कर देना, दुनिया के इंसानों में
थोड़ी अकल उसमें भर देना,पत्थर दिल दिवानो में ।।

तुमने दुनिया एक बनाया, उसमें अनेकानेक समाया
चमत्कार तेरा है भगवन,सबको अकेला एक बनाया।
ऐ भगवान इतना कर देना, हम सब के नादानो में
थोड़ी अकल………….. ।।

माया ममता लोभ ये देकर, सबको है भरमाए तुम
मन बांधकर क्यों नहीं रखते,हमको क्यों उलझाए तुम।
ऐ भगवान दुख कम कर देना, अपने ही मेहमानों में
थोड़ी अकल……… ।।

सब संभव कर सकते हो तुम,बस इतना उपकार करो
जो सच्चे हैं बस तुम उनको, उसका बेड़ा पार करो।
ऐ भगवान दम इतना भर देना, गर्व करे अरमानो में
थोड़ी अकल……….. ।।

हम नादान बालक हैं तेरे, हम में संचय कुछ भी नहीं
जैसी करनी फल वैसी होगी,इसमें संसय कुछ भी नहीं।
ऐ भगवान भ्रम इतना मत देना, अपने धर्म ईमानो में
थोड़ी अकल……….. ।।

10 Comments

  1. Dr Swati Gupta Dr Swati Gupta 31/05/2018
  2. Rajeev Gupta Rajeev Gupta 31/05/2018
  3. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 31/05/2018
  4. Bhawana Kumari Bhawana Kumari 31/05/2018
  5. C.M. Sharma C.M. Sharma 01/06/2018

Leave a Reply