मानवता ही धर्म

हिन्दू ,मुस्लिम,सिख, ईसाई l
किसने इन धर्मो में बाटा है ll
पैदा होता है जब एक इंसा l
वो धर्म लेकर नहीं आता है ll

धर्मो की ये मोहर लगाकर l
किसने हमको अलग किया ll
बाट दिए धर्मो को इन्होने l
भेदभाव को ये पैदा किया ll

इशू, ईश्वर, अल्लाह, वाहेगुरु l
सभी उसी एक के ही नाम है ll
किसी भी नाम से उसे पुकारो l
सब उसके लिए एकसमान है ll

धर्मो से ऊपर होता है कर्म l
कर्म ही तो हमारी पूजा है ll
धर्म तो है सिर्फ मानवता l
ना इसके बिन कुछ दूजा है ll

आपस में ही हमें लड़वाया l
धर्म के झूठे ठेकेदारों ने  ll
घेरी ज़मीन धर्म की आड़ में l
रहने लगे उन्ही गलियारों में ll

हमारे दिए सब दान धर्म से l
तिजोरी को अपनी सजाया है ll
दिया जन्म संसार में जिसने l
आड़ में उसी की कमाया है ll

सोचो,समझो जानो प्यारे भाई l
हिन्दू ,मुस्लिम,सिख या ईसाई ll
दूर करो आपस के भेदभाव को l
ना करो कभी आपस में लड़ाई ll

————–

13 Comments

  1. rakesh kumar rakesh kumar 28/05/2018
    • Rajeev Gupta Rajeev Gupta 29/05/2018
  2. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 28/05/2018
    • Rajeev Gupta Rajeev Gupta 29/05/2018
  3. ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 28/05/2018
    • Rajeev Gupta Rajeev Gupta 29/05/2018
    • Rajeev Gupta Rajeev Gupta 29/05/2018
  4. Bhawana Kumari Bhawana Kumari 28/05/2018
    • Rajeev Gupta Rajeev Gupta 29/05/2018
  5. C.M. Sharma C.M. Sharma 29/05/2018
    • Rajeev Gupta Rajeev Gupta 29/05/2018
  6. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar prasad sharma 29/05/2018
    • Rajeev Gupta Rajeev Gupta 30/05/2018

Leave a Reply