चुनावों के बाद – अनु महेश्वरी

यह किसने कब सोचा था, ऐसे भी दिन आएँगे,
चुनावों के बाद जनता को, सब ठेंगा दिखाएंगे,
बिन मुद्दे, साठगांठ कर, सत्ता को हतियाएँगे,
एक हो सब, मिल बाँट तब, ये मलाई खाएँगे,
बुद्धि प्रयोग हम न करेंगे तो ताकते रह जाएंगे,
रोज हमें चिढ़ाने ये टेलीविजन पर भी आएंगे,
बेमतलब के मुद्दों पर, बहस, खूब कर जाएंगे|
भाषा और जात-पात में जब तक बटतें जाएंगे,
राज नेता भी तब तक हमे खूब नाच नचाएंगे|

 

अनु महेश्वरी

12 Comments

    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 24/05/2018
  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 24/05/2018
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 24/05/2018
      • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 24/05/2018
        • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 24/05/2018
  2. Bhawana Kumari Bhawana Kumari 24/05/2018
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 24/05/2018
  3. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 24/05/2018
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 24/05/2018
  4. C.M. Sharma C.M. Sharma 25/05/2018
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 25/05/2018

Leave a Reply