मुझे याद रखना

शीर्षक–मुझे याद रखना

जब कभी खुद से नाराज हो जाओ
जब अकेले बैठे -बैठे बेचैन हो जाओ
उस अकेलेपन में मुझे शामिल करना
उस पल में मुझे याद करना
अपनी यादो में याद रखना

जब धुप तुझे खिडकियों से झांके
जब पलके तुम्हारी आंखो से
अठखेलियाँ कर जाएँ
उस पल में मेरी तस्वीर देखना
मुझे अपने ख्वाबो में याद रखना

जब आवारा बादल कोई
तुझे भींगने पर मजबूर करें
तुम भींग ही जाना
बूंदों में मुझे महसूस करना
मुझे याद रखना

जब पलकों से बहते आसूँ
बहा ले जाए तेरे काजल को
तुम बहते देना उन्हें
मैं करूँगा खुदा से फरियाद
तुम मुझे याद रखना——अभिषेक राजहंस

6 Comments

  1. Madhu tiwari Madhu tiwari 26/04/2018
    • Abhishek Rajhans 26/04/2018
  2. ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 26/04/2018
    • Abhishek Rajhans 26/04/2018
  3. Bhawana Kumari Bhawana Kumari 26/04/2018
  4. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 26/04/2018

Leave a Reply