शायरी

मुझे मौसम का बहाना नही चाहिए
एक पल का ठिकाना नहीं चाहिए
हमे तो रहना है उसकी बाहों में ताउम्र
कुछ पल का अफसाना नही चाहिए

👏कृष्णा👏

2 Comments

  1. C.M. Sharma C.M. Sharma 13/04/2018
  2. Krishna121 Krishna121 24/04/2018

Leave a Reply