दर्द की किताब (16.12.2017)

खुशियों से नाराज है मेरी जिंदगी,
जिंदगी की मोहताज है मेरी जिंदगी,
लोगों को दिखाने के लिए हँसती हूँ
मगर,दर्द की किताब है मेरी जिंदगी ॥

सीमा वर्मा”अपराजिता”

8 Comments

  1. कृष्ण सैनी कृष्ण सैनी 07/04/2018
  2. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 07/04/2018
  3. Vishal 07/04/2018
  4. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 07/04/2018
  5. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar prasad sharma 07/04/2018
  6. C.M. Sharma C.M. Sharma 09/04/2018
  7. davendra87 davendra87 09/04/2018
  8. Bhawana Kumari Bhawana Kumari 09/04/2018

Leave a Reply