कटु वचन – मधु तिवारी

🌹कटु वचन🌹
मधु तिवारी

कटु वचन से पड़े जो पाला,
सब हो जाता गड़बड़झाला।

आ जाता बड़ जोर का गुस्सा,
बिल्कुल जाय नहीं संभाला।

लगता मुँह वो तोड़ ही डालूँ,
या हट जाय बोलने वाला।

बना बनाया काम बिगड़ता,
जो बोले बिन सोंचा भाला।

व्यंजन दे कटु वचन निकालो,
खाया जाय न एक निवाला।

मीठे बोल शांत करता है
कटु वचन से होते बवाला।

बिगड़े काम सभी बन जाते,
मुँह से मीठे वचन निकाला।

मधुर वचन की मधुर मोतियाँ
सुखद पिरो लो स्नेही माला।

✍🏻श्रीमती मधु तिवारी, दुर्ग,छत्तीसगढ़।
🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹

13 Comments

  1. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar prasad sharma 30/03/2018
  2. mukta mukta 30/03/2018
  3. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 30/03/2018
  4. ANU MAHESHWARI Anu Maheshwari 31/03/2018
  5. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 31/03/2018
  6. chandramohan kisku Chandramohan Kisku 31/03/2018

Leave a Reply