दूज का चाँद

दूज का चाँद-

मेरे छोटे घर-कुटीर का दिया
तुम्हारे मंदिर के विस्तृत आँगन में
सहमा-सा रख दिया गया ।

Leave a Reply