बेवफा……… काजल सोनी

वो खुशी के अरमान आँखों में सजा कर बैठे हैं
कहते हैं बिन तेरे मै नहीं, पर नजरें किसी और
पर टिका कर बैठे हैं……. ।

होती है कुछ रंजीसे इश्क के रास्तों में भी
हम तो धोखा इस दिल से खा कर बैठे हैं…. ।

न अपनाया जाता है , न भुलाया जाता है उन्हें
देखकर उनकी मासूमियत, इस दिल को
बस बहला कर बैठे हैं…… ।

जाने क्यूँ कर जाता है इश्क यू अंधा सबको
जो कैसे कैसे सपने हम उनके, दिल पर अपने
जगा कर बैठे हैं……. ।

बड़ी तड़प हैं मेरी आशिकी में, पर वो क्या जाने
वेबफा जो कितनों से वफा निभा कर बैठे हैं…. ।

” काजल सोनी ”

24 Comments

  1. Madhu tiwari Madhu tiwari 22/02/2018
    • Kajalsoni 26/02/2018
  2. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 22/02/2018
    • Kajalsoni 26/02/2018
  3. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar Prasad sharma 22/02/2018
    • Kajalsoni 26/02/2018
  4. C.M. Sharma C.M. Sharma 23/02/2018
    • Kajalsoni 26/02/2018
  5. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 23/02/2018
    • Kajalsoni 26/02/2018
  6. Rajeev Gupta Rajeev Gupta 23/02/2018
    • Kajalsoni 26/02/2018
  7. yogesh sharma yogesh sharma 23/02/2018
    • Kajalsoni 26/02/2018
  8. bhupendradave 24/02/2018
    • Kajalsoni 26/02/2018
      • Kajalsoni 26/02/2018
  9. Abhishek Rajhans 26/02/2018
    • Kajalsoni 26/02/2018
  10. sarvesh singh sameer sarvesh singh sameer 02/03/2018
    • Kajalsoni 11/03/2018
  11. kiran kapur gulati kiran kapur gulati 07/03/2018
    • Kajalsoni 11/03/2018
  12. laxmi 20/03/2018

Leave a Reply