सपना – मधु तिवारी

💐सपना कभी अपना नहीं होता💐मधु तिवारी
सपना कभी अपना नहीं होता
सतपथ चल कुंदन सा तपना नहीं होता

पथ पसंद सरल सभी को
कठिन राह चलके खपना नहीं होता

देश समाज हित शहीद हो
कभी अखबार मे छपना नहीं होता

चले हम सीय राम डगर पर
ऐसा चरित का कहीं नपना नहीं होता

सपना कभी अपना नहीं होता
चल सतपथ कुंदन सा तपना नहीं होता
✍🏻मधु तिवारी,छत्तीसगढ़
💐💐💐💐💐💐💐💐

11 Comments

  1. C.M. Sharma C.M. Sharma 18/01/2018
    • Madhu tiwari Madhu tiwari 18/01/2018
  2. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 18/01/2018
    • Madhu tiwari Madhu tiwari 18/01/2018
  3. ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 18/01/2018
    • Madhu tiwari Madhu tiwari 18/01/2018
  4. Madhu tiwari Madhu tiwari 18/01/2018
  5. Rajeev Gupta Rajeev Gupta 18/01/2018
  6. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 19/01/2018
    • Madhu tiwari Madhu tiwari 19/01/2018
  7. Kajalsoni 21/01/2018

Leave a Reply