मेरी कलम 8…….काजल सोनी

मुश्किल घड़ी में
अपने बड़े याद आते हैं
मगर कोई अपने आते नहीं……।

इंसान की गलतियों में
लोग सभी समझाते हैं
मगर उसे समझते नहीं…….।

किसी की हार में
लोग सभी हंसते हैं
मगर हारे हुए को हंसाते नहीं……।

बदनाम लोगों की
बातें बडी़ बनाते हैं सभी
मगर बिगड़ी बात बनाते नहीं…..।

जब कोई चला जाता है
अपनापन दिखाते हैं सभी
मगर किसी को अपनाते नहीं……. ।।

” काजल सोनी “

7 Comments

  1. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 15/01/2018
  2. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 15/01/2018
  3. Rajeev Gupta Rajeev Gupta 15/01/2018
  4. Bhawana Kumari Bhawana Kumari 15/01/2018
  5. C.M. Sharma C.M. Sharma 16/01/2018
  6. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar Prasad sharma 16/01/2018
  7. Madhu tiwari Madhu tiwari 19/01/2018

Leave a Reply