अधुरी क्यूं है…

तुं पास होकर भी, ये दुरी क्यूं है
हमें तन्हा छोड़ जाना जरूरी क्यूं है,
कभी तो हमसे मील मुकम्मल होकर
“ऐ-जिन्दगी” तुं मीलती अधुरी क्यूं है…

….इंदर भोले नाथ

7 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 06/01/2018
  2. Bhawana Kumari Bhawana Kumari 07/01/2018
  3. Madhu tiwari Madhu tiwari 07/01/2018
  4. C.M. Sharma C.M. Sharma 08/01/2018
  5. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 08/01/2018
  6. Kajalsoni 11/01/2018

Leave a Reply