देख लो – शिशिर मधुकर

देख लो ना बिन तुम्हारे कैसा मेरा अब हाल है
हर एक पल बस यूँ लगे तन्हा गुजरता साल है

हसरत तेरे नज़दीक रहने की फना सब हो गईं
काटे नहीं कटता है जो रिश्तों का ऐसा जाल है

अब ऋतु आ के चली जाती है बिन उम्मीद के
फूलों से सजती नही उजड़ी पड़ी जो डाल है

लाख कोशिश तुम करो कुछ बिगड़ता ही नही
पास में जिसके यहाँ उल्फ़त की सच्ची ढाल है

तुम गए मधुकर तो फिर सुर भी ऐसे गुम हुआ
नीरस हुईं है जिंदगी मिलती नहीं कोई ताल है

शिशिर मधुकर

18 Comments

  1. ANU MAHESHWARI Anu Maheshwari 27/12/2017
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 28/12/2017
  2. Kajalsoni 27/12/2017
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 28/12/2017
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 28/12/2017
  3. सीमा वर्मा सीमा वर्मा 28/12/2017
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 28/12/2017
  4. C.M. Sharma C.M. Sharma 28/12/2017
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 28/12/2017
  5. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar Prasad sharma 28/12/2017
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 28/12/2017
  6. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 28/12/2017
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 28/12/2017
  7. Madhu tiwari Madhu tiwari 28/12/2017
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 28/12/2017
  8. chandramohan kisku chandramohan kisku 30/12/2017
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 30/12/2017

Leave a Reply