सोच कर सोचो साथ क्या जायेगा

सोच कर सोचो साथ क्या जायेगा,
अंत समय में नर तू भी पछतायेगा।
मुठी बन्द करके आया हाथ पसार जायेगा,
सोच कट सोचो साथ क्या जायेगा।
अंत समय में नर तू भी पछतायेगा।।
जन्म लिया लकड़ी की खाट पर सोया,
आकर इस संसार में पहले तू रोया।
अभी ये हालत तो आगे क्या होयेगा।।
सोच कर सोचो साथ क्या जाएगा,
अंत समय में नर तू भी पछतायेगा।
बचपन में खिलोनो में मोह तेरा,
ये गाड़ी वो गुड्डा मेरा।
ये गाड़ी गुड्डा यहीं रह जायेगा,
सोच कर सोचो साथ क्या जायेगा।
अंत समय में नर तू भी पछतायेगा।।
आयी जवानी मस्तानी लिया मज़ा,
किये बुरे कर्म तो मिली सजा।
इन कर्मों के फल भी भुक्तायेगा,
सोच कर सोचो साथ क्या जायेगा ।
अंत समय में नर तू भी पछतायेगा।।
शादी हुई तेरी बजी शहनाईयां,
लोग दे रहे तुझे बधाईयां।
अभी बाकी है वो क्या करवाएगा,
सोच कर सोचो साथ क्या जायेगा।
अंत समय में नर तू भी पछतायेगा।।
पड़ा बीवी के मोह प्यार में,
जवानी में दुख दिया यार ने।
ये दोस्त मोह यहीं रह जायेगा,
सोच कट सोचो साथ क्या जायेगा।
अंत समय में नर तू भी पछतायेगा।।
पशु की तरह की कमाई,
उस धन से भी न हुई समाई।
धन माया सब छूट जायेगा,
सोच कर सोचो साथ क्या जायेगा।
अंत समय में नर तू भी पछतायेगा।।
आया बुढ़ापा देख के रोया,
क्यों मै भूल भरम में सोया।
इस उम्र में कोई साथ नही निभायेगा,
सोच कर सोचो साथ क्या जायेगा।
अंत समय में नर तू भी पछतायेगा।।
सबने छोड़ा अब छोड़ेगा संसार,
कुछ पल है बाकि लगेगी अब हार।
मौत से अब कौन बचाएगा,
सोच कर सोचो साथ क्या जायेगा।
अंत समय में नर तू भी पछतायेगा।।
आये दूत बुलाये अब तुझे परमात्मा,
चरों तरफ अँधेरा छोड़ शरीर चली आत्मा।
नर ज़रा सोच अब कहाँ जाएगा,
सोच कर सोचो साथ क्या जायेगा।
अंत समय में नर तू भी पछतायेगा।।

8 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 23/12/2017
  2. C.M. Sharma C.M. Sharma 23/12/2017
  3. Bhawana Kumari Bhawana Kumari 23/12/2017
  4. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar prasad sharma 23/12/2017
  5. Kajalsoni 23/12/2017
  6. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 23/12/2017
  7. Madhu tiwari Madhu tiwari 23/12/2017

Leave a Reply