कैसी कशमकस….

कशमकस कैसी है ये,
किस उलझन मे उलझा हूं मै
किस चांह कि पनाह मे,
हुआ खुद से गुम-सा हूं मै
करता बसर खुद मे ही हूं,
फिर भी कहीं भटका हूं मै
इक अजनबी एहसास की,
निकला हूं मै तलाश मे
ऐ-जिन्दगी तुं ही बता,
हूं कौन मै, कहां हूं मै…

कशमकस कैसी है ये,
किस उलझन मे उलझा हूं मै….

…..IBN

13 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 07/12/2017
  2. C.M. Sharma C.M. Sharma 08/12/2017
  3. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 08/12/2017
  4. Arun Kant Shukla अरुण कान्त शुक्ला 08/12/2017
  5. ANU MAHESHWARI Anu Maheshwari 08/12/2017
  6. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar Prasad sharma 08/12/2017
  7. Madhu tiwari Madhu tiwari 09/12/2017

Leave a Reply