तुझको मिटाया न गया…सी.एम्. शर्मा (बब्बू)…

दिल मेरा तुझ बिन किसी हाल बहलाया न गया…
भीड़  में  हो  के भी तनहा  मन छुपाया न गया…

चाँद  चेहरे  पे  सितारों  से  चमकते  ये  नयना…
लाख कोशिश की मगर उन से बचाया न गया….

कुछ तो हम ऐसे कि जां अपनी पे लेलें हर सितम…
और  कुछ तुम से  भी  साथ मेरा निभाया न गया….

था तो इक सागर मगर बेखबर अपने ही से वो ….
प्यास  अपनी ही को खुद से भी बुझाया न गया…

है  खुदा  रौशन हरेक  शै  में  जहॉं  भर में यहां…
खोट  दिल  रखके कहीं भी तो वो पाया न गया….

दिल के आईने में तस्वीर तेरी काबिज है “चँदर “..
दिल हुआ टुकड़े कई तुझको मिटाया न गया…
\
/सी.एम्. शर्मा (बब्बू)

12 Comments

  1. kiran kapur gulati kiran kapur gulati 07/10/2017
    • C.M. Sharma C.M. Sharma 09/10/2017
  2. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 07/10/2017
    • C.M. Sharma C.M. Sharma 09/10/2017
  3. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 07/10/2017
    • C.M. Sharma C.M. Sharma 09/10/2017
  4. Madhu tiwari Madhu tiwari 07/10/2017
    • C.M. Sharma C.M. Sharma 09/10/2017
  5. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar prasad sharma 07/10/2017
    • C.M. Sharma C.M. Sharma 09/10/2017
  6. sarvajit singh sarvajit singh 08/10/2017
    • C.M. Sharma C.M. Sharma 09/10/2017

Leave a Reply