ए ज़िन्दगी तू जरा आहिस्ता चल – अनु महेश्वरी

ए ज़िन्दगी, तू जरा आहिस्ता चल,
मुझे जरा सा सुस्ता लेने दे,
दुनिया के हर हंसी पल,
अपनी झोली में, भर लेने दे|

ठंडी हवा के झोंके,
जो अक्सर छूकर निकल जाते थे,
उस अहसास को, अनुभव कर लेने दे,
बारिश की गिरती बूंदो में,
जरा सा मुझे भीग लेने दे,
तपती धुप के स्पर्श से,
गर्मी का अहसास, हो लेने दे,
चांदनी रात में सितारों से,
दो बातें मुझे कर लेने दे,
अब भी बाकि जो है ख्वाहिसे,
उन हर पल को, मुझे जी लेने दे|

ए ज़िन्दगी तू जरा आहिस्ता चल,
मुझे जरा सा सुस्ता लेने दे,
अपनों के साथ कुछ हंसी पल,
मुझे फिर से जी लेने दे|

 

अनु महेश्वरी
चेन्नई

16 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 01/10/2017
  2. ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 01/10/2017
  3. kiran kapur gulati kiran kapur gulati 01/10/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 01/10/2017
  4. Madhu tiwari Madhu tiwari 02/10/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 03/10/2017
  5. sarvajit singh sarvajit singh 02/10/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 03/10/2017
  6. Aman Nain Aman Nain 02/10/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 03/10/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 03/10/2017
  7. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar Prasad sharma 03/10/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 03/10/2017
  8. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 03/10/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 03/10/2017

Leave a Reply