आसी पासी, कितनी देर?

आसी पासी, कितनी देर?

यु की तुम पास ही,

पर कितनी देर?

दफ्तर की रेल पेल,

उठा पटक,

भागम भाग |

आसी पासी कितनी देर?

यूँ चूमने और न चूमने का दायरा,

यु बाँहों में कसने और न कसने का दायरा,

तुम्हारी अफीम सी महक, और गंजे सा नशा,

तुम्हारे गुलाबी होंठ और कोमल बाँहों का सिलसिला

यु की तुम पास हो,

पर कितनी देर?

दफ्तर की रेल पेल,

उठा पटक,

भागम भाग में दूर और पास |

 

एक ज़माना बिताना है तुम्हारे साथ,

की एक ज़िन्दगी भर की तुम हो,

खुशियाँ बटोरने  और गम खर्च करने का दायरा

ज़िम्मेदारीया निभाने और फुर्सत लुटाने का दायरा

तुमसे गुफ्तगू करने या सोते हुए तुम्हे घूरने का दायरा

सुबह उठने या सपनो में तुम्हरे बालो के नीचे सोने का दायरा

यु की तुम पास हो,

पर कितनी देर?

दफ्तर की रेल पेल,

उठा पटक,

भागम भाग में दूर और पास |

Leave a Reply