हे गुरुवर तुम्हे प्रणाम — डी के निवातिया

हे गुरुवर तुम्हे प्रणाम

***

तुम हो प्रबुद्ध, मनीषी
शास्त्र, बोध के धोतक
तुम जग के शिल्पकार
हे गुरुवर तुम्हे प्रणाम !!

संचित कर बुद्धि विवेक से
जीवन करते  आलोकित
शास्रोक्त, यथार्थ,अशिष्ट
मार्ग दिखा करते परोपकार
हे गुरुवर तुम्हे प्रणाम !!

मातृ-पितृ में वास तुम्हारा
देवो से उच्च स्थान तुम्हारा
शरण तुम्हारी जो है आता
कर जाता वो भव-सागर पार
हे गुरुवर तुम्हे प्रणाम !!

***
डी के निवातिया

***

मेरे जीवन में आने वाले उन सभी अग्रज व् अनुज भद्रजनो को  महान शिक्षाविद डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी के जन्म दिवस को समर्पित शिक्षक दिवस की ढेरो शुभकामनाये और कोटिश नमन करता हूँ जिनके माध्यम से मुझे सैदव जीवन मे कुछ न कुछ सीखने का अवसर मिला !!

10 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 05/09/2017
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 05/09/2017
  2. Madhu tiwari Madhu tiwari 05/09/2017
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 05/09/2017
  3. ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 05/09/2017
  4. Meena Bhardwaj Meena Bhardwaj 05/09/2017
  5. kiran kapur gulati kiran kapur gulati 06/09/2017
  6. C.M. Sharma babucm 06/09/2017
  7. shivdutt 07/09/2017

Leave a Reply