रक्षाबंधन…Raquim Ali

रक्षाबंधन

जब-जब आता है, रक्षाबंधन का यह प्यारा त्योहार
चित्त प्रसन्न हो जाता है, झूम जाता है सारा परिवार
फिर से बढ़ जाता है, भाई-बहन में आपस का प्यार।

भले साल भर लड़ते रहते हों, करते रहते हों वे तकरार
आँखें नम हों जो बहना की भैय्या पाए न तनिक करार
बहन सदा सुखी रहे, भैय्या रहता मर-मिटने को तैयार।

दोनों का यह प्रेम अमर है, सरिता का यह मीठा जल है
कितना निश्छल, कितना निर्मल, युग-युग से बहता रहता है
कितना अद्भुत, कितना प्यारा है, दोनों का यह प्यार।

। आप सब को रक्षाबंधन की अग्रिम शुभकामनाएं ।
…र.अ. bsnl

10 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 03/08/2017
  2. C.M. Sharma babucm 03/08/2017
  3. Madhu tiwari madhu tiwari 03/08/2017
  4. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 03/08/2017
  5. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar Prasad sharma 03/08/2017
  6. kiran kapur gulati kiran kapur gulati 04/08/2017
  7. raquimali raquimali 04/08/2017
  8. ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 04/08/2017
  9. Kajalsoni 04/08/2017
  10. raquimali raquimali 05/08/2017

Leave a Reply