गहरी साजिश – अनु महेश्वरी

जन्म लेने में, मेरी भूमिका कहाँ थी,
न ही मेरी पसंद, न पसंद की बात थी,
सबके विकास की बाते जब होती है,
फिर क्यों आरक्षन का जाल ही बुना है?

जब मै होती हूँ, अपने दोस्तों के बीच,
कभी धर्म या जाति की,
हमने परवाह ही नहीं की,
फिर क्यों और कैसे यह अभी तक जीवित है?

दर्द तो उधर भी है, और इधर भी,
आंसू है उधर भी, और इधर भी,
न ही उधर ख़ुशी है न ही इधर है,
क्यों इसका परिणाम अभी तक मिला नहीं है?

क्यों अबतक सबको एक जैसी ही,
सुख सुविधा उपलब्ध नहीं हो सकी है?
कही कोई गहरी साजिश तो नहीं,
बांटो और राज करो का, ताबीज तो नहीं?

 
अनु महेश्वरी
चेन्नई

18 Comments

  1. C.M. Sharma babucm 31/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 05/08/2017
  2. kiran kapur gulati kiran kapur gulati 31/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 05/08/2017
  3. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 31/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 05/08/2017
  4. Rajeev Gupta Rajeev Gupta 31/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 05/08/2017
  5. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 31/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 05/08/2017
  6. Madhu tiwari madhu tiwari 31/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 05/08/2017
  7. raquimali raquimali 31/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 05/08/2017
  8. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar Prasad sharma 31/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 05/08/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 05/08/2017

Leave a Reply to kiran kapur gulati Cancel reply