बादल से छा गए – शिशिर मधुकर

तेरी नज़रों में छुपे प्यार को हम तो पा गए
हम आबाद हैं उस दश्त में तुम ये दिखा गए

तुम मिले तो इस धूप की जलन हुई है कम
मौसंम बदल गया है और बादल से छा गए

चारों तरफ एक शोर है कुछ भी सूझता नहीं
याद आते हैं वो ही गीत जो तुम गुनगुना गए

यूँ तो भरी पडी पडी है ज़माने भर में नेमतें
पर एक तेरे अंदाज़ ही बस हमको लुभा गए

चेहरे तो दिल का आईना हैं बोलते हैं सच
मधुकर तेरी ख़ातिर हम हर इक गम छुपा गए

शिशिर मधुकर

19 Comments

  1. arun kumar jha arun kumar jha 23/07/2017
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 24/07/2017
  2. Madhu tiwari madhu tiwari 23/07/2017
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 24/07/2017
  3. ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 23/07/2017
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 24/07/2017
  4. Ram Gopal Sankhla Ram Gopal Sankhla 24/07/2017
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 24/07/2017
  5. C.M. Sharma babucm 24/07/2017
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 24/07/2017
  6. chandramohan kisku chandramohan kisku 24/07/2017
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 24/07/2017
  7. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 24/07/2017
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 24/07/2017
  8. angel yadav anjali yadav 25/07/2017
  9. angel yadav anjali yadav 25/07/2017
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 26/07/2017
  10. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar Prasad sharma 26/07/2017
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 26/07/2017

Leave a Reply